चीनी उद्योग ( Sugar Industry )

चीनी उद्योग (Sugar Industry)

भारत में आधुनिक चीनी उद्योग की शुरुआत 1903 ई. में बिहार में पहली चीनी मिल की स्थापना के साथ हुई।

चीनी उद्योग के बारे में :-

चीनी उद्योग दूसरा एक महत्‍वपूर्ण कृषि आधारित उद्योग है जो लगभग 50 मिलियन गन्‍ना किसानों और चीनी मिलों में सीधे नियोजित 5 लाख कर्मियों की ग्रामीण आजीविका को प्रभावित करती है। परिवहन, मशीनरी की व्‍यापार सेवाओं और कृषि आदानों की आपूर्ति से संबंधित विभिन्‍न सहायक गतिविधियों में भी रोजगार के अवसर उत्‍पन्‍न हुए हैं। सभी कर्मियों व किसानों के सहयोग से होता है ।

यह भी पढ़े सूती वस्त्र उद्योग (Cotton Textile Industry)

भारत के निम्न राज्य चीनी उद्योग से संबंधित हैं -

उत्तर प्र. देवरिया, भटनी, पड़रौना, गोरखपुर, गौरी बाजार,सिसवाँ, बाजार, बस्ती, बलरामपुर, गोंडा, बाराबंकी, सीतापुर, हरदोई, विजनौर, मेरठ, सहारनपुर, मुरादाबाद, बुलन्दशहर, कानपुर, फैजाबाद एवं मुजफ्फरनगर आदि ।
बिहार मोतिहारी, सुगौली, मझौलिया, चनपटिया, नरकटियागंज, मढ़ौरा, सासामूसा, मोतीपुर, गोपालगंज, डालमियानगर, सारण, समस्तीपुर, दरभंगा, चम्पारण, हसनपुर आदि।
महाराष्ट्र मनसद, नासिक, अहमदनगर, पूना, शोलापुर एवं कोल्हापुर ।
प. बंगाल तेलडांगा, पलासी, हावड़ा एवं मुर्शिदाबाद।
पंजाब हमीरा, फगवाड़ा, अमृतसर ।
हरियाणा जगधारी एवं रोहतक।
तमिलनाडु अरकाट, मदुरै, कोयम्बटूर, तिरुचिरापल्ली।
आन्ध्र प्र. सीतापुरम्, पीठापुरम्, बेजवाड़ा, हास्पेट एवं साभल कोट ।
राजस्थान गंगानगर, भूपाल सागर ।

चीनी का उत्पादन :-

देश में चीनी की कुल उत्पादन क्षमता का लगभग 70 प्रतिशत उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र और तमिलनाडु राज्य में होता है। भारत में गन्ने के साथ-साथ चुकन्दर से भी चीनी बनाने की दिशा में प्रयास किया जा रहा है। चुकन्दर से चीनी बनाने का एक कारख़ाना राजस्थान के गंगानगर में स्थापित किया गया है वर्ष 2006-07 के दौरान देश में 28199 हज़ार मी. टन चीनी का उत्पादन हुआ ।

चीनी उत्पादन क्षेत्र :-

चीनी उत्पादन की दृष्टि से पहला , दूसरी, तीसरा तथा चौथा स्थान वाले राज्य निम्न हैं ।
पहला :- उत्तर प्रदेश
दूसरा :- महाराष्ट्र
तीसरा :- तमिलनाडु
चौथा :- आंध्र प्रदेश
Note :- गुजरात,कर्नाटक,बिहार, हरियाणा, पंजाब, पश्चिम बंगाल, मध्य प्रदेश, राजस्थान, असम, पाण्डिचेरी, केरल, नागालैण्ड आदि राज्यों में भी चीनी का उत्पादन किया जाता है।

यह भी पढ़े भारतीय स्‍वतंत्रता आंदोलन के प्रमुख वचन और नारे

चीनी उद्योग एक मौसमी उद्योग क्यों है?

चीनी उद्योग के लिए महत्त्वपूर्ण कच्चा माल गन्ना है जोकि एक विशेष मौसम में ही प्राप्त होता है। अतः उस विशेष मौसम को छोड़कर शेष समय में चीनी मिलें बिना कामकाज के खाली पड़ी रहती हैं।

चीनी में कौन-सा तत्व पाया जाता है ?

चीनी (Sugar) एक क्रिस्टलीय खाद्य पदार्थ है। चीनी में मुख्यत: सुक्रोज, लैक्टोज एवं फ्रक्टोज उपस्थित होता है। मानव की स्वाद ग्रन्थियाँ मस्तिष्क को इसका स्वाद मीठा बताती हैं ।

चीनी की खोज कब हुई ?

चीन की शुरुआत 8वीं शताब्दी के आसपास, मुस्लिम और अरब व्यापारियों ने भूमध्य सागर, मेसोपोटामिया, मिस्र, उत्तरी अफ्रीका और अन्डालुसिया में अब्बासीद खलीफा के दक्षिण हिस्सों में की गयी थी ।

चीनी सफेद कैसे होती है?

चीनी का सफेद रंग सल्फर डाइ ऑक्साइड की वजह से होता है ।

चीनी उद्योग की समस्याएं :-

चीनी उद्योग के लिए महत्त्वपूर्ण कच्चा माल गन्ना है जोकि एक विशेष मौसम में ही प्राप्त होता है। अतः उस विशेष मौसम को छोड़कर शेष समय में चीनी मिलें बिना कामकाज के खाली पड़ी रहती हैं। धीरे-धीरे गन्ने की उपलब्धता व रख - रखाव में कमी आयी हैं क्योकि गन्ना जल्दी सूख जाता हैं ।


Note :- अगर आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी पसंद हो तो आप हमारे facebook पेज को like करके हमारा हौसला बढ़ाने में मदद कर सकते हो



Post a Comment

0 Comments