ओम का नियम - SI मात्रक , 1 ओम की परिभाषा , v तथा I में ग्राफ , व्युत्पत्ति तथा सूक्ष्म रूप | 12th class Physics Notes | | PDF Download |

ओम का नियम - SI मात्रक , 1 ओम की परिभाषा ,  v तथा I में ग्राफ , व्युत्पत्ति तथा सूक्ष्म रूप | 12th class Physics Notes | | PDF Download |

विधुत धारा [ 12th class Physics Notes ]

ओम का नियम :-

यदि किसी चालक की भौतिक अवस्थाएँ ( लम्बाई , अनुप्रस्थ काट और ताप ) नियत रहें तो चालक के सिरों पर आरोपित विभवान्तर , चालक में प्रवाहित धारा के समानुपाती होता है अर्थात् V ∝ I V = IR [ R = चालक का प्रतिरोध ]

R =
V / I

प्रतिरोध का SI मात्रक :-

ओम =
वोल्ट / एम्पियर

1 ओम की परिभाषा :-

1 ओम =
1 वोल्ट / 1 एम्पियर

यदि किसी चालक के सिरों पर उत्पन्न विभवान्तर 1 वोल्ट है और चालक में प्रवाहित धारा का मान 1 Amp. हो तो चालक का प्रतिरोध 1 ओम होगा

V तथा I में ग्राफ :-

V तथा I में ग्राफ ( ओम का नियम  )

ओम के नियम की व्युपत्ति :-

∵ I = neAVd
तथा Vd =
eE / m
∙ T
तब I = neA [
eE / m
∙ T ]
I = [
ne2AT / m
]∙ E
I = [
ne2AT / m
]
V / L
I / V
= [
ne2T / m
]
A / L
V / I
= [
mL / ne2T A
] [ व्युत्क्रम करने पर ]

यहाँ लम्बाई (L) , क्षेत्रफल (A) तथा विश्रांति काल (T) , ताप पर निर्भर करते है तथा इनका मान नियत रहता है

V / I
= R (नियत)

ओम के नियम का सूक्ष्म रूप

∵ I = neAVd
तथा Vd =
eE / m
∙ T
तब I = neA [
eE / m
∙ T ]
I = [
ne2AT / m
]∙ E
या
I / A
= [
ne2T / m
]∙ E
धारा घनत्व (J) = [
ne2T / m
]∙ E
चालकता (J) = σ E
सदिश रूप में J = σ E

यही ओम के नियम का सूक्ष्म रूप है

ओम का नियम - SI मात्रक , 1 ओम की परिभाषा , v तथा I में ग्राफ , व्युत्पत्ति तथा सूक्ष्म रूप PDF Download

पीडीएफ को देखें और दोस्तों को शेयर करे


Download PDF

12th class physics Notes

सभी बिषयवार Free PDF यहां से Download करें

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Promoted Posts