Content Marketing

भारत की जलवायु ( Climate of India ) | PDF Download |

भारत की जलवायु ( Climate of India )

भारत की जलवायु ( Climate of India ) का अध्धयन :-

'जलवायु' का अभिप्राय , किसी विशाल क्षेत्र में एक लंबे समय ( लगभग 30 वर्ष ) तक मौसम की परिस्थितियां एवं उनमें में पाये जाने वाले अंतर है , जबकि 'मौसम' का अभिप्राय, किसी क्षेत्र विशेष में एक निश्चित समय के लिये वायुमंडलीय परिस्थितियां होती है ।
भारत एक उष्णकटिबंधीय जलवायु वाला देश है यहां की जलवायु मानसूनी है ।
पर्वत श्रृंखलाओ की स्थिति एवं मानसूनी पवनों के प्रवाह की दिशा, भारतीय जलवायु को प्रभावित करने वाले दो सबसे प्रमुख कारक है इसके अलावा दक्षिण में हिंद महासागर की उपस्थिति भी इसकी जलवायु को प्रभावित करती है ।
भारत की स्थलाकृतिक बनावट भी इसकी जलवायु को प्रभावित करती है ।
भारत में पाई जाने वाली विभिन्न ऋतुये, भारतीय जलवायु की प्रमुख विशेषताओं में से एक है ।
दक्षिण-पूर्वी मानसून ऋतु अर्थात वर्षा ऋतु, भारत की सबसे महत्वपूर्ण ऋतु है इसी ऋतु में अधिकांश वर्षा होती है उत्तर-पूर्वी मानसून ऋतु, जनवरी में प्रारंभ होती है ।
वायुमंडल की ऊपरी परत में बहने वाली जेट स्ट्रीम, भारत में मानसून के आगमन एवं वापसी का समय निर्धारित करती है ।
भारतीय जलवायु को मुख्यतया ये कारक प्रभावित करते हैं : हिमालय पर्वत , अक्षांश एवं देशांतर , भारतीय उपमहाद्वीप की दशाएं , समुद्र से दूरी , पश्चिम विक्षोभ ( Western Disturbances ) , जेट स्ट्रीम इत्यादि ।
भारत में निम्नलिखित चार ऋतुए पाई जाती है :-
1. शीत ऋतु
2. ग्रीष्म ऋतु
3. शरद ऋतु
4. वर्षा ऋतु ।
शीत ऋतु ( दिसंबर से फरवरी ) इस समय औसत तापमान सामान्यत: 21 डिग्री सेंटीग्रेड होता है इस ऋतु में आने वाले व्यापारिक पवनो को उत्तर-पूर्वी मानसून कहते हैं । इन व्यापारिक पवनों से उत्तर भारत में रबी की फसल को विशेष लाभ होता है । इस समय पश्चिम हिमालय क्षेत्र में हिमपात तथा तमिलनाडु में भारी वर्षा होती है ।
ग्रीष्म ऋतु ( मार्च से जून ) इस समय औसत तापमान सामान्यत: 40 डिग्री सेंटीग्रेड होता है । इस समय देश में गर्म हवाओ या लू का प्रकोप होता है । इस ऋतु में देश के उत्तरी भागों का दिन का तापमान काफी बढ़ जाता है ।
वर्षा ऋतु ( जून से सितंबर ) इस समय भारत में मानसून का आगमन होता है भारत में मुख्य वर्षा दक्षिण पश्चिमी मानसून की अरब सागर शाखा से होती है बंगाल की खाड़ी की शाखा से भी वर्षा होती है लेकिन इसकी मात्रा थोड़ी कम होती है ।
शरद ऋतु ( अक्टूबर से नवंबर ) इसे 'लौटता दक्षिण पश्चिमी मानसून' कहते हैं इस ऋतु में बंगाल की खाड़ी से चक्रवात उठते हैं, जो भारत व बांग्लादेश में भयंकर तबाही मचाते हैं। चक्रवातो के कारण पूर्वी तटों पर भारी वर्षा होती है ।

प्रमुख तथ्य :-

भारत में सबसे निम्न तापमान : -40 डिग्री सेंटीग्रेड ( कारगिल के समीप द्रास में , जम्मू कश्मीर )
भारत में सबसे उच्च तापमान : 58 डिग्री सेंटीग्रेड ( जैसलमेर , राजस्थान )
भारत में सबसे कम वर्षा : 12 सेंटीमीटर ( जैसलमेर , राजस्थान )
भारत में सबसे अधिक वर्षा : 1141 सेंटीमीटर ( मासिनराम , मेघालय )
भारतीय ऋतुओ के परंपरागत नाम : वसंत ( मार्च-अप्रैल ) , ग्रीष्म ( मई-जून ) , वर्षा ( जुलाई-अगस्त ) , शरद ( सितंबर-अक्टूबर ) , हेमंत ( नवंबर-दिसंबर ) एवं शिशिर ( जनवरी-फरवरी ) ।
आम्र वर्षा ( Mango Shower ) : कर्नाटक, केरल, कोंकण एवं गोवा में पूर्ण मानसून के आने से पहले जो वर्षा होती है, उसे आम्र वर्षा कहते हैं । वैसे उत्तर भारत में इस नाम का प्रचलन इस वजह से है कि इससे आम के फल जल्दी पक जाते हैं ।

भारत के जलवायु प्रदेश ( Climate Zones of India ) :-

कोपेन के वर्गीकरण के अनुसार भारत के जलवायु प्रदेशों को निम्न भागों में बांटा गया है :
शुष्क उष्ण मरुस्थलीय जलवायु प्रदेश ( Hot desert Type- Bwhw ) इसके अंतर्गत पश्चिमी राजस्थान के क्षेत्र आते हैं ।
अल्प शुष्क ऋतु वाले मानसूनी प्रदेश ( Monsoon Type With short Dry Winters-Cwg ) इसके अंतर्गत भारत के मैदानी क्षेत्र आते हैं ।
समशीतोष्ण आद्र जलवायु प्रदेश ( Monsoon Type With Dry Winters-Cwg ) इसके अंतर्गत भारत के मैदानी क्षेत्र आते हैं ।
उष्णकटिबंधीय सवाना प्रदेश ( Monsoon Type With Dry Season in Summers-As ) इसके अंतर्गत तमिलनाडु , आंध्र प्रदेश तथा तेलंगाना आते हैं ।
दीर्घावधि ग्रीष्म ऋतु वाले शुष्क मानसूनी प्रदेश ( Tropical Savannah Type-Aw ) इसके अंतर्गत कोरमंडल तट आता है ।
शीतोष्ण कटिबंधीय आद्र जलवायु प्रदेश ( Cold-humid Winter Type with Short Summers-Dfc ) इसके अंतर्गत भारत के उत्तर-पूर्वी क्षेत्र आते हैं ।
अर्द्ध-शुष्क स्टेपी जलवायु प्रदेश ( Semi-arid Steppe Climate-BShw ) इसके अंतर्गत राजस्थान व हरियाणा के कुछ भाग जाते हैं ।
ध्रूवीय जलवायु वाले प्रदेश ( Polar Type-E) इसके अंतर्गत जम्मू एवं कश्मीर, हिमाचल प्रदेश आदि आते हैं
टून्ड्रा प्रकार की जलवायु वाले प्रदेश ( Tundra Type-Et ) इसके अंतर्गत उत्तरांखंड के पर्वतीय क्षेत्र आते हैं ।



✻ भारत की जलवायु ( Climate of India ) PDF Download

पीडीएफ को देखें :-

सभी बिषयवार Free PDF यहां से Download करें

Watch Sound Video

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां

Promoted Posts